Recents in Beach

धनवान बनने के 4 गुप्त रहस्य | how to make rich in hindi|how to make money |how to earn money



   
धनवान बनने के 4 गुप्त रहस्य | how to make rich in hindi|how to make money |how to earn money



    धनवान बनने के 4 गुप्त रहस्य

  आज के समय में  धनवान बनना चाहते हैं यदि आपके पास पैसा नहीं
  है तो इसके जिम्मेदार आप स्वयं हैं क्योंकि जो लोग पैसे वाले हैं वह 
  बड़ी शान और शौकत के साथ रहते हैं उनके पास महंगी गाड़ियां 
  बंगले जमीन जायदाद लग्जरी जरूरत की चीजें उनके पास होती है
  उनका बैंक बैलेंस दिन-रात बढ़ता ही जाता है जब आप उनको 
  महंगी गाड़ियों में देखते हैं तो आप अपने आप को छोटा महसूस
  करते हैं आप अपनी किस्मत को कोसने लगते हैं लेकिन आपने
नोटिस किया है कि यह लोग पैसे वाले कैसे बने इनके पास इतना पैसा 
आया कहां से आज हम आपको
 बताने जा रहे हैं धनवान बनने के चार गुप्त रहस्य आपके जीवन को एकदम बदल देंगे 
आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़िए

how to make rich in hindi


 #1 दूसरे के पास नौकरी करके 

 #2 खुद के लिए नौकरी करके


 #3 व्यवसाय (entrepreneurship)

 #4 निवेशक (Invester)

 #1 दूसरे के पास नौकरी करके :-

 दुनिया में सबसे ज्यादा प्रचलित तरीका यही है सभी नौकरी करने
 वाले   लोग इसी तरह से पैसा कमाते हैं दुनिया में लगभग 90%
परिवारों की   आजीविका इस तरीके से ही पूरी होती है आज हम 
कभी किसी से भी   मिलकर  पूछते है कि आप  क्या करते हो तो 
मालूम पड़ता है कि  आप से   मिलने वाले 90% लोग किसी ना 
किसी एंपलॉयर के पास या सरकार के   पास जॉब या नौकरी करते 
हैं यह लोग आमतौर पर कुछ हजार से   कुछ  लाख के आसपास की
 कमाई ही कर पाते हैं अक्सर इस श्रेणी में   आने  वाले लोग किसी 
भी आदेश के गुलाम होते चले जाते हैं कोई ना कोई   इनको काम 
करने के निर्देश देता ही रहता है और उसको बखूबी निभाकर   कर 
पाना ही इनकी काबिलियत को जांचने का पैमाना होता है इस 
नौकरी   में पैसा  कमाने वाले लोगों की सेवानिवृत्ति लगभग 60 
 वर्ष की उम्र पर   होती है




 #2 खुद के लिए नौकरी करके:-

 कुछ लोग एक अच्छी सी प्रोफेशनल डिग्री लेकर अपने लिए काम
 या जॉब  या नौकरी देते हैं उदाहरण के तौर पर Engineer Doctor
 Ca Cs advocat  आदि यह सभी लोग अपनी डिग्री के दम पर 
स्वयं को रोजगार देते हैं और पैसा कमाते हैं दुनिया के लगभग 5-8%
लोग इस तरीके से पैसा कमाते हैं ध्यान रहे कि जो लोग किसी 
तरह की दुकान या एजेंसी लेकर अपनी आजीविका कमाते हैं वह
 भी इस श्रेणी में ही आते हैं इस श्रेणी में पैसा कमाने वाले लोग 
प्रथम श्रेणी वाले लोगों से ज्यादा पैसा कमाते हैं तथा प्रथम श्रेणी 
वाले लोग अपने बच्चों को इसी श्रेणी यानी कि द्वितीय श्रेणी में 
आने की सलाह दिया करते हैं तथा भगवान के भरोसे या मेहनत 
के भरोसे द्वितीय श्रेणी में पहुंचने की उम्मीद में रहते हैं उदाहरण
 के तौर पर नौकरी करने वाले लोग अपने बच्चों को कोई भी 
प्रोफेशनल डिग्री दिलाने की उम्मीद करते हैं इस श्रेणी के लोगों
 की सेवानिवृत्ति की कोई सीमा नहीं होती और जिंदगी भर काम
 ही काम में लीन होकर रह जाना इनकी मजबूरी होती है इस श्रेणी
 के लोगों की कमाई कुछ लाख से ऊपर होती है तथा इनका IQ 
लेवल अच्छा  होता है



#3 व्यवसाय (Entrepreneurship):-

यह बहुत ही ऊंची सोच के लोग होते हैं यह लोग पढ़ाई में काफी 
अच्छे या ऊपर दर्जे के रहे हो बिल्कुल जरूरी नहीं यह लोग बहुत
 सटीक लक्ष्य  पर काम करते हैं तथा यह वह लोग हैं जो अपनी 
कमाई के लिए दूसरे लोगों को रोजगार जॉब नौकरी देते हैं छोटे 
दुकानदार भी अपने आपको इसी श्रेणी में आने की गलती करते हैं
 दरअसल इस श्रेणी के लोग अपनी कमाई के लिए एक सिस्टम 
बनाते हैं जब तक वे उस सिस्टम को जनरेट करते हैं तब तक 
इनके पास पैसा नहीं कमता है 

एक उदाहरण के तौर पर समझिए जैसे रिलायंस जियो ने 4G
लांच करने से पहले पूरे देश में लाखों टावर  को लगाया साथ ही 
साथ अपने उत्पाद को बेचने की प्रणाली को विकसित करने में 
भी कुछ सैकड़ों करोड़ लगाया ही होगा क्या तब तक कुछ पैसा 
कमाया होगा शायद बिल्कुल भी नहीं  कुछ विकसित करने में 
रिलायंस जिओ को तकरीबन 2 वर्ष का समय भी लगा लेकिन 
अगले1 वर्ष में डाटा  फ्री मैं बेचा क्या तब भी  कमाया होगा बिल्कुल
 भी नहीं लेकिन उसके बाद एक सिस्टम डिवेलप हो चुका था अब 
रिलायंस जिओ ने सिर्फ कमाया ही कमाया 


इस श्रेणी के लोग इसी प्रकार एक सिस्टम डिवेलप करते हैं और 
पैसा बेशुमार कमाते हैं  सच तो यह है कि यह लोग अपनी कमाई 
के लिए दूसरे लोगों को नौकरी देकर यहां अस्थाई रोजगार देकर 
उनका समय अपनी कमाई के लिए खरीद लेते हैं जैसा कि मैंने 
अपने पिछले आर्टिकल नौकरी या बिजनेस में बताया था  
पैसा कमाने एक सूत्र होता है

                          MONEY=Time RateMan power 


इस श्रेणी के लोग अपने  एंप्लोई का समय अपने सपनों को पूरा
 करने के लिए खरीद लेते हैं  employee retailer  shop keeper 
सिर्फ 8 घंटे काम करता है जबकि बिजनेसमैन के लिए प्रतिदिन  
लाखों घंटे काम होता है तो formula के अनुसार पैसा भी लाख गुना
 आता है इस श्रेणी के 2-5%  लोग ही होते हैं
इस श्रेणी के लोग पैसा कमाने के लिए स्वयं कुछ भी काम नहीं करते
 या बहुत कम समय काम करते हैं यह लोग अपनी सोच को उच्च 
स्तर पर ले जाने के लिए प्रतिदिन काम करते हैं इस श्रेणी के लोगों 
की आदतें आम लोगों की आदतों से बिल्कुल अलग होती हैं यह 
लोग रोज successful habit  को जिंदा रखने में विश्वास रखते हैं 
तथा उसके लिए बुक्स पड़ते हैं जैसे बिल गेट्स महीने में 10 से 
ज्यादा बुक्स पढ़ते हैं तथा सीखते हैं  श्रेणी के लोगों को सफलता 
मिलने के बाद फिजिकल फिट फिजिकल प्रेजेंस की भी जरूरत 
नहीं होती है  क्योंकि सफलता मिलने के पश्चात जो सिस्टम 
इन्होंने मेहनत या पूंजी लगाकर तैयार किया था वह सिस्टम 
इनके लिए काम करता है

इस श्रेणी के उदाहरण tata bata reliance airtel p&gआदि



#4 निवेशक (Invester):-


इस श्रेणी के लोगों यह इनकी पूंजी ही पैसा कमा कर देती है सीधे 
शब्दों में कहें तो पैसे से पैसा बनाते हैं

उदाहरण के तौर पर अगर कोई व्यक्ति 100 करोड़ रुपए लगाकर
 कोई बहुमंजिला इमारत  या व्यवसायिक भवन तैयार करके उसे 
किराए पर लीज पर दे देता है तो उसकी निवेश की हुई पूंजी उसे 
पैसा बना कर देती है

तीसरी श्रेणी के वे लोग जो अतिरिक्त पैसा इकट्ठा करते हैं  उसको 
इन्वेस्ट करके पैसा कमाया करते हैं इस श्रेणी के लोग करोड़ों अरबों 
खरबों की कमाई किया करते हैं लेकिन इस श्रेणी में कमाई करने वाले लोगों की संख्या सिर्फ 1% से भी बहुत कम होती है 

आज आपको सोचना हुआ कि आप किस श्रेणी में आते हैं और 
आपके सपनों का साइज क्या है 
किसी ने लिखा है your income will not far exceed for 
your personal development

 इसी प्रकार की रोचक और मजेदार  जानकारी के लिए हमारी वेबसाइटhttps://www.tipstool.in को फॉलो करना 
ना भूलें क्योंकि हम जो भी आर्टिकल डालते हैं एकदम सटीक होता है

Older post:-
                      alcohol effects 



                      how to take bank loan 

Post a Comment

0 Comments